Today Current Affairs In Hindi - 18 Feb 2021

Today Current Affairs In Hindi - 18 Feb 2021 

today current affairs in hindi, daily current affairs in hindi
Current Affairs - 18 Feb 2021


किशोर न्याय अधिनियम , 2015

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने बच्चो के हितो को सुनिश्चित करने व् बाल संरक्षण व्यवस्था को मजबूत बनाने के उपायों को सुनिश्चित करने के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के किशोर न्याय ( बच्चो की देखभाल एवं संरक्षण) विधेयक 2015 में संशोधन के प्रस्ताव को मजूरी दे दी है |\

संशोधन में मामलो के तेजी से निपटारा सुनिश्चित करने तथा जवाबदेही बढ़ाने के लिए जिला मजिस्ट्रेट तथा अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट को किशोर न्याय अधिनियम की धारा 61 के तहत गोद लेने का आदेश जारी करने का अधिकार दिया गया है |

जिला मजिस्ट्रेट को अधिनियम के तहत और अधिक सशक्त बनाते हुए कानून के सुचारू क्रियान्वयन का भी अधिकार दिया गया है जिससे संकट की स्थिति में बच्चो के पक्ष में समन्वित प्रयास किए जा सके |

सीडब्लूसी सदस्यों की नियुक्ति सबंधी योज्यता मानदंडो को परिभाषित करने और पहले से अनिर्धारित अपराधो को “गंभीर अपराध” के रूप में वर्गीकृत करने की भी बात विधेयक के प्रस्ताव में कही गयी है |

पीएलआई योजना

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में 17 फरवरी 2021 को दूरसंचार और नेटवर्किंग उत्पादों के लिए उत्पादन से संबद्ध लाभ (पीएलआई) योजना को मंजूरी डी गई है , जिसके लिए बजट में 12,195 करोड़ रूपए व्यय करने का प्रावधान किया गया है |

पीएलआई योजना का लक्ष्य – भारत में दूरसंचार तथा नेटवर्किंग उत्पादों के निर्माण को बढ़ावा देना है | इसके साथ ही वित्तीय लाभ देने के प्रस्ताव से घरेलु विनिर्माण को बढ़ावा मिलेगा और दूरसंचार तथा नेटवर्किंग उत्पादों के क्षेत्र में निवेश आकर्षित किया जा सकेगा |

ईज ऑफ़ डूइंग बिज़नेस

कारोबार में सुगमता सुधारो को सफलतापूर्वक पूरा करने वाले राज्यों की संख्या बढ़कर 15 हो गई है |

तीन और राज्य गुजरात , उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड ने व्यय विभाग द्वारा निर्धारित “ईजऑफ़ डूइंग बिज़नेस” सुधारो को पूरा करने की सुचना दी है |

इससे पहले , आँध्रप्रदेश , असम , हरियाणा , हिमाचल प्रदेश , कर्नाटक , केरल , मध्य प्रदेश , ओडिशा , पंजाब , राजस्थान , तमिलनाडु और तेलंगाना ने भी इस सुधार के पूरा होने की सुचना दी थी , जिसकी पुष्टि डीपीआईआईटी द्वारा की गई थी |

ईज ऑफ़ डूइंग बिज़नेस में सहायता प्रदान करने वाले सुधारों को पूरा करने पर इन 15 राज्यों को 38,088 करोड़ रुपये का अतिरिक्त ऋण जुटाने की अनुमति दी गई है |

जीव – जंतु कल्याण एवं संरक्षण 2020 – 21

देश में जीव जंतु कल्याण एवं संरक्षण के लिए काम करने वाली शीर्ष संस्था भारतीय जंतु कल्याण बोर्ड ने जीव जंतु कल्याण के क्षेत्र में अतुलनीय योगदान देने वाले व्यक्तियों , संगठनो और कॉरपोरेट्स को वर्ष 2021 के लिए 14 प्राणी मित्र और जीवदया पुरस्कार प्रदान किए |

इस अवसर पर प्राणी मित्र और जीव दया पुरस्कार जिन व्यक्तियों और संगठनों को दिए गए उनकी सूची इस प्रकार है-

1.     प्राणी मित्र पुरस्कारः श्री योगेंद्र कुमार, नई दिल्ली, श्री मनीष सक्सेना, जयपुर, राजस्थान और श्री श्यामलाल चौबीसा, उदयपुर, राजस्थान।

2.     प्राणी मित्र पुरस्कार शौर्यः श्री अनिल गणदास, गुरुग्राम, हरियाणा, स्वर्गीय श्रीमती कल्पना वासुदेवन, कोयम्बटूर, तमिलनाडु।

3.     प्राणी मित्र पुरस्कारः ताउम्र पशु सेवा- मेजर जनरल(सेवानिवृत्त) डॉ. आर. एम. खरब, एवीएसएम, गुरुग्राम, हरियाणा, डॉ. एस. चिन्नी कृष्णा, चेन्नई, तमिलनाडु और डॉ. एस.आर. सुंदरम्, चेन्नई, तमिलनाडु।

4.     प्राणी मित्र पुरस्कारः जीव-जंतु कल्याण संगठन -वर्ल्ड संकीर्तन टूर ट्रस्ट, होडल, हरियाणा, श्री करुणा फाउंडेशन ट्रस्ट, राजकोट, गुजरात और पीपल फॉर एनीमल्स अहमदाबाद, गुजरात।

5.     प्राणी मित्र पुरस्कारः कॉरपोरेट-टाटा ट्रस्ट फाउडेशन, मुंबई, महाराष्ट्र।

6.     जीव दया पुरस्कारः जीव-जंतु कल्याण संगठन- ध्यान फाउंडेशन, नई दिल्ली और एनीमल एड चेरीटेबल ट्रस्ट, उदयपुर, राजस्थान।

पांच सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन लांच

केन्द्रीय श्रम और रोजगार राज्यमंत्री श्री संतोष कुमार गंगवार 18 फरवरी को चंडीगढ़ में लेबर ब्यूरो द्वारा किए जा रहे पांच अखिल भारतीय सर्वेक्षण सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन का शुभारम्भ और प्रश्नावली से युक्त निर्देश पुस्तिकाएं जारी करेंगे |

लेबर ब्यूरो द्वारा किए जा रहे पांच सर्वेक्षण है : -

प्रवासी श्रमिको के बारे में अखिल भारतीय सर्वेक्षण,

घरेलु कामगारों के बारे में अखिल भारतीय सर्वेक्षण,

पेशेवरो द्वारा सृजित रोजगार के बारे में अखिल भारतीय सर्वेक्षण,

परिवहन क्षेत्र में सृजित रोजगार के बारे में अखिल भारतीय सर्वेक्षण और

स्थापना आधारित रोजगार के बारे में अखिल भारतीय सर्वेक्षण  

Post a Comment