Today Current Affairs In Hindi - 10 and 11 Mar 2021

Today Current Affairs In Hindi - 10 and 11 Mar 2021 

today current affairs in hindi
Current Affairs - 10 and 11 Mar 2021


किंग भूमिबोल वर्ल्ड साइड डे – 2020 पुरस्कार

भारतीय कृषि अनुसन्धान परिषद् की तरफ से थाईलैंड में भारत की राजदूत सुश्री सुचित्रा दूरई को एफएओ का प्रतिष्ठित “किंग भूमिबोल वर्ल्ड साइड दे – 2020” पुरस्कार दिया गया |

एफएओ , रोम ने विश्व मृदा दिवस – 2020 के दौरान “मृदा क्षरण रोको , हमारा भविष्य बचाओ” विषय पर “मृदा स्वास्थ्य जागरूकता” में योगदान के लिए आईसीआरए को अन्तराष्ट्रीय सम्मान देने का ऐलान किया गया था |

आईसीएआर – मृदा विज्ञानं संस्थान , भोपाल , मध्यप्रदेश ने स्कूली छात्रों , कृषि समुदाय और आम जनता के लिए भरी उत्स्सः के साथ कई कार्यक्रमों का आयोजन किया |

संसथान ने विश्व मृदा दिवस के आयोजन के तहत “मृदा – हमारी धरती माँ” के संरक्षण के लिए व्यापक जागरूकता अभियान का आयोजन किया , झिसमे मार्च – पास्ट और प्रतिभागिय को मृदा स्वास्थ्य प्रचार सामग्री का वितरण शामिल था |

प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा निधि

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने वित्त अधिनियम 2007 के सेक्शन 136 बी के तहत लिए जाने वाले स्वास्थ्य एवं शिक्षा उपकार से प्राप्त होने वाली राशि से स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए एक “सिंगल नॉन लैप्सेबल रिज़र्व फण्ड” के रूप में “प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा निधि”(पीएमएसएसएन) बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है|

प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा निधि की मुख्य बाते :-

1 सार्वजानिक खाते में स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए एक “सिंगल नॉन लैप्सेबल रिज़र्व फण्ड”

2 स्वास्थ्य एवं शिक्षा उपकार से प्राप्त राशि में से स्वास्थ्य का अंश प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा निधि में बेजा जाएगा

3 पीएमएसएसएन में भेजी गई इस राशि का इस्तेमाल स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की महत्वपूर्ण योजनाओ में किया जायेगा –

  • आयुष्मान भारत – प्रधानमंत्री जन अयोग्य योजना
  • आयुष्मान भारत – स्वास्थ्य एवं देखभाल केंद्र
  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन
  • प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना
  • स्वास्थ्य सम्बन्धी आपात स्थितियों में आपातकाल एवं आकस्मिक विपत्ति काल में तैयारी एवं प्रतिक्रिया कोई कोई भी अन्य भावी कार्यक्रम /योजना जिसका लक्ष्य एसडीजी की दिशा में प्रगति हासिल करना और राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति 2017 के तहत तय लक्ष्य को प्राप्त करना हो

4 पीएमएसएसएन को लागु करने और उसकी रखरखाव की जिम्मेदारी स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की होगी |

5 किसी भी वित्तीय वर्ष में , स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की उक्त योजनाओ का व्यय प्रारंभिक तौर पर पीएमएसएसएन से लिए जायेगा और बाद से सकल बजट सहायता (ग्रॉस बजटरी स्पोर्ट) से लिया जाएगा |

पोस्ट डीवैल्युएशन रेवेन्यु डेफिसिट ( पीडीआरटी) अनुदान

वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग ने 12वी मासिक (अंतिम क़िस्त) राजस्व घाटे की भरपाई के लिए पोस्ट डिवैल्युएशन रेवेन्यु डेफिसिट (पीसीआरटी) अनुदान के तहत 61.94.09 करोड़ रूपये जारी किया गया है और इस क़िस्त को जारी करने के बाद मौजूद वित्त वर्ष में पात्र राज्यों को कुल 74,340 करोड़ रूपये जारी किए जा चुके है |

संविधान के अनुच्छेद 275 के तहत राज्यों को पोस्ट डिवैल्युएशन रेवेन्यु डेफिसिट अनुदान प्रदान किया जाता है | इस अनुदान को मासिक किस्तों में जारी किया जाता है | 15 वे वित्त आयोग की सिफ़ारिशो के अनुसार राज्यों को मासिक आधार पर राजस्व घाटे की भरपाई के लिए जरुरी अनुदान दिया जाता है | आयोग ने राजस्व घाटे की भरपाई के लिए 14 राज्यों को अनुदान की सिफारिश की है |

जिन 14 राज्यों को 15वे वित्त आयोग द्वारा पोस्ट डिवैल्युएशन रेवेन्यु डेफिसिट अनुदान की सिफारिश की गई है , वे है – आँध्रप्रदेश , असम, हिमाचल प्रदेश , केरल , मणिपुर , मेघालय , मिजोरम , नागालैंड , पंजाब , सिक्किम , तमिलनाडु , उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल |

पारादीप प्लास्टिक पार्क समझौता

इंडियन ऑयल कारपोरेशन लिमिटेड और ओडिशा इंडस्ट्रियल इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कारपोरेशन ने पारादीप प्लास्टिक पार्क को विकसित करने के लिए एक अनुबंध और समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया है |

पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस और इस्पात मंत्री धमेंद्र प्रधान ने कहा है कि प्लास्टिक क्षेत्र की उधम और रोजगार सृजन क्षमता को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने प्लास्टिक पार्क योजना के माध्यम से इस उधोग के कलस्टर विकास की शुरुआत की है | वर्तमान में , भारत सरकार ने ऐसे 6 पार्को को मंजूरी दी है और पारादीप प्लास्टिक पार्क उनमे से ही एक है |

यह ओडिशा पेट्रोलियम , रसायन , पॉलीमर , कपड़ा और फाइबर क्षेत्रो में तेजी से विकास के माध्यम से औधिगीकरण का केंद्र बन जाएगा |

समझौता हस्ताक्षर के अनुसार पारादीप प्लास्टिक पार्क में डाउनस्ट्रीम पॉलीमर उधोगो में निवेश को आकर्षित करने के लिए इंडियन आयल ने एक विशेष रणनीति प्रोत्साहन योजना की घोषणा की है | इसके अनुसार पॉलीप्रोपाईलीन ग्रेन्युल के उत्पादन पर 2000 रूपये प्रति मीट्रिक तन को प्रोत्साहन राशि दी  जाएगी | यह राशि 31/03/30 तक पारादीप प्लास्टिक पार्क में स्थित विनिर्माण इकाइयों को प्रदान की जाएगी |

इसमें यह अनुमान लगाया गया है कि लगभग 26 इकाइया प्लास्टिक पार्क में 500 करोड़ रूपये के अनुमानित निवेश के साथ आएगी और इसमें 6000 प्रत्यक्ष और अप्रत्येक्ष रोजगार उत्पन्न होने की संभावना है |

Post a Comment